Your notification message!

Selected:

जेल की डायरी

100.00

जेल की डायरी

100.00

कवि : उदय नारायण सिंह ‘ नचिकेता ‘

अनुवादक : अरुणाभ सौरभ

Categories: , ,
Add to Wishlist
Add to Wishlist

Description

जेल की डायरी साहित्य अकादेमी द्वारा पुरस्कृत मैथिली कविता संग्रह जहलक डायरी का हिंदी अनुवाद है। इस संग्रह की 27 कविताएँ जेल में बंद व्यक्ति की दृष्टि से लिखी गई हैं। लेखन का अभ्यासी कवि एक वादी के रूप में क़ैद की सीमाओं से दुनिया को किस तरह देखता है, जबकि वह विभिन्न दायित्वों से बँधा है, जो सामाजिक भी हैं और नैतिक भी; तथा जब वह अपने वास्तविक अथवा कथित दुष्कृत्य के लिए लंबी सज़ा पूरी करता है-यही इन कविताओं की विषयवस्तु है। जेल की डायरी की कविताएँ वाहय और अंतर्मन की क़ैद की तमाम जकड़बंदियों को अत्यंत काव्यात्मक तरीक़े से प्रस्तुत करती हैं।

Quick Navigation
×
×

Cart